उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव 2020 : इस बार हर पद के लिए होगा अलग रंग का बैलेट पेपर

यूपी पंचायत चुनाव 2020 : इस बार हर पद के लिए होगा अलग रंग का बैलेट पेपर

  • उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव की तारीखों का भले ही अभी ऐलान नहीं हुआ है लेकिन प्रशासनिक अमले में इसकी तैयारियां तेज हो गई है। वोटर लिस्ट पुनरीक्षण का काम जारी है वहीं अब बैलेट पेपर की छपाई का काम भी शुरू हो गया है। यह छपाई प्रयागराज स्थित राजकीय प्रिंटिंग प्रेस में हो रही है। इस बार पंचायत चुनाव में हर पद के लिए अलग अलग रंग का बैलेट पेपर होगा।

प्रधान पद के प्रत्याशी के लिए हरे रंग का मतपत्र होगा जबकि ग्राम पंचायत सदस्य के पद के उम्मीदवार के लिए सफेद रंग के मतपत्र पर मतदाता को मुहर लगानी होगी। इसी क्रम में क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी के लिए  के नीले रंग का और जिला पंचायत सदस्य पद के लिए गुलाबी रंग का मतपत्र छप रहा है।  पहली अक्तूबर से शुरू हुए वोटर लिस्ट पुनरीक्षण अभियान में बूथ लेबल आफिसर हर ग्राम पंचायत में घर-घर जाकर वोटरों की जांच कर रहे हैं। यह बीएलओ वर्ष 2015 में हुए पिछले पंचायत चुनाव के बाद से अब तक परिवार में 18 वर्ष की उम्र पूरी करने वाले युवाओं के नाम नये वोटर के रूप में दर्ज कर रहे हैं, साथ ही इन पांच वर्षों में मृत या दूसरे राज्य में स्थानांतरित हो गये वोटरों के नाम काट भी रहे हैं।

इन बीएलओ के लिए ई-बीएलओ एप भी लांच कर दिया गया है। इस एप पर बीएलओ को राज्य निर्वाचन आयोग से मिलने वाले आदेश निर्देश की सारी जानकारी होगी। राज्य निर्वाचन आयोग को सभी जिलों में तैनात बीएलओ के मोबाईल नम्बर का डाटा भेजा गया है। बीएलओ को अपने मोबाईल फोन के प्ले स्टोर में जाकर यह मोबाईल एप डाउनलोड करने के लिए ओटीपी लेना होगा। ग्रामीण क्षेत्र की आम जनता अपने बीएलओ की जानकारी राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट www.sec.nic.in पर जाकर बीएलओ सर्च से प्राप्त कर सकते हैं। 2015 के पंचायत चुनाव में कुल  11 करोड़ 70 लाख वोटर थे। इस बार उम्मीद की जा रही है कि करीब  13 करोड़ हो जाएंगे।

Live Cricket Live Share Market
[elfsight_youtube_gallery id="3"]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close